हिना बनीं एयर फोर्स की पहली महिला फ्लाइट इंजिनियर

first flite engineer सित. ०५, २०१९


हिना ने बेंगलुरु के येलाहांका एयर फोर्स स्टेशन से फ्लाइट इंजिनियर का कोर्स पूरा किया है। पैरंट्स ने बताया कि बचपन से ही हिना को सैनिकों की वर्दी से लगाव था और वह आसमान में उड़ान भरना चाहती थी। आखिरकार उनका सपना सच ही साबित हुआ।

फ्लाइट लेफ्टिनेंट हिना जायसवाल ने इतिहास रचते हुए भारतीय वायुसेना की पहली महिला फ्लाइट इंजिनियर बनने का गौरव प्राप्त कर लिया है। हिना, वर्ष 2015 में वायुसेना की इंजिनियरिंग ब्रांच में शामिल हुईं थीं।

चंडीगढ़ की रहने वाली हिना ने पंजाब यूनिवर्सिटी से इंजिनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी। वह अपने मां-बाप की इकलौती संतान हैं। हिना की मां अनीता जायसवाल तथा पिता डी.के. जायसवाल ने बेटी की सफलता को किसी सपने के सच होने के जैसा करार दिया।

हिना को बचपन से ही हिना को सैनिकों की वर्दी से लगाव था और वह आसमान में उड़ान भरना चाहती थीं। आखिरकार उनका सपना सच ही साबित हुआ।' हिना ने बेंगलुरु के येलाहांका एयर फोर्स स्टेशन से फ्लाइट इंजिनियर का कोर्स पूरा किया है।


सुमित सिंह

मेरा नाम सुमित सिंह है। मैंने इतिहास में स्नातकोत्तर किया है तथा मैं दो सुंदर बेटियों की माँ हूँ।मैंने यह ब्लॉग मेरे जैसी अन्य महिलाओं से बात करने के लिए बनाया हैं।